लगता था सत्ता में नहीं आएंगे, इसलिए किए थे बड़े वादे – गडकरी बोले

»लगता था सत्ता में नहीं आएंगे, इसलिए किए थे बड़े वादे गडकरी बोले«

 

बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के एक ताजा बयान से पार्टी और केंद्र सरकार की किरकिरी हो सकती है. गडकरी ने बताया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्यों जनता से कई वादे किए थे.

उनके मुताबिक,  ‘हम इस बात से पूरी तरह आश्वस्त थे कि हम कभी सत्ता में नहीं आएंगे, इसलिए हमें बड़े-बड़े वादे करने की सलाह दी गई थी. अब जब हम सत्ता में हैं जनता हमें उन वादों के बारे में याद दिलाती है. हालांकि, अब हम इस पर हंस कर आगे बढ़ जाते हैं.’ गडकरी ने यह बात एक मराठी टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कही है.

कांग्रेस ने बोला हमला

इंटरव्यू के वायरल होते ही कांग्रेस ने भी इस वीडियो की क्लिप ट्विटर पर शेयर कर दी और कहा कि गडकरी ने ये साबित कर दिया है कि बीजेपी जुमले और झूठे वादों के दम पर चुनाव जीत कर सत्ता में आई है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी गडकरी के इस वीडियो को ट्वीट किया और कहा, सही फरमाया, जनता भी यही सोचती है कि सरकार ने लोगों के सपनों और उनके भरोसे को अपने लोभ का शिकार बनाया है.

और पढें » सरकार बताए, कैसे की राफेल विमान की डील सुप्रीम कोर्ट

गडकरी के इस बयान से प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस और दूसरे विपक्षी दलों को भाजपा को घेरने का मौका मिल सकता है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों अपनी चुनावी रैलियों में राफेल डील, नोटबंदी, जीएसटी के अलावा रोजगार और काला धन को लेकर किए वादों पर भी सरकार को घेर रहे हैं.

क्या कहते थे पीएम?

बता दें कि पीएम मोदी 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान अपनी रैलियों में ‘काला धन वापस लाने’ और ’15 लाख रुपये खाते में आने’ की बात कहते थे.  गडकरी के इस बयान के बाद केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी बैकफुट पर आ सकती है.

आप की राय

Be the First to Comment!

avatar